How to make and sing the Taan of any Raag किसी भी राग की तान कैसे बनाते और गाते हैं

Important to understand

It is very important to understand that Raag for sing Taan. It is very important to know the Chalan and Identity of the Raag. If you want to make a Taan from yourself in a raag, first you have to learn that the raag carefully. Learning the Bilambit khyal, Drut Bandish and Madhyalay Bandish of the raag, it is important to understand how to sing Taan in the Bandish.

Practice

Palta/Alankars practice should be done everyday. According to Chalan of Raag you can think about Taan. You have to sing Taan after understand the Rhythm (Taal). After all the Taan practice many times, the new Taan comes in mind. According to the Chalan of the Raag, it is thought about Taan in mind.


समझना बहुत जरूरी है

किसी भी राग में तान गाने के लिए उस राग को समझना बहुत जरूरी होता है। राग का चलन और पहचान जानना बहुत महत्वपूर्ण है। अगर आप किसी राग में खुद से तान बनाना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको उस राग को सही से सीखना होगा। राग की विलंबित ख्याल, छोटा ख्याल, मध्यलय और द्रुत बंदिश सीखना जरूरी है। द्रुत बंदिश में तान किस तरह गाते हैं वो समझना बहुत महत्वपूर्ण है।

रियाज़

पल्टा/अलंकार का रियाज़ बहुत अच्छी तरह से हर रोज करना चाहिए। राग के चलन के अनुसार तान के बारे में सोचा जाता है। बंदिश की ताल को समझकर तान गया जाता है। हर एक तान को बहुत बार अभ्यास करने के बाद ही नया तान दिमाग में आता है। राग के चलन के अनुसार लय और ताल को दिमाग में रखकर तान के बारे में सोचा जाता है। शुरू में कठिन होता है पर नियमित अभ्यास से सब ठीक हो जाता है।


Watch Video:
✓Make Palta Taan Sargam by Own पलटा तान सरगम खुद से कैसे बनायें

#Sing fast taan, Aakar Taan Sargam Gamak तेज तान कैसे गाये

#How to sing taan with Bandish Know Taal Matra Rythm Song beats

#When we should Riyaz of Gamak or Akaar, आकार का रियाज़ कब शुरू करना चाहिए ??


error: Content is protected !!