How to Increase Bass In Voice, Vocal Warm up exercise, Improve voice quality, Increase Vocal range गले में बेस कैसे लाएं, गला गर्म करना, गला तैयार करना, गले का रेंज बढ़ाना

Basic Practice

To get a base in the throat, you first need to do a Riyaz of Sa. After this, the practice of Kharaj is to be done. Kharaj Riyaz is very important for bringing base in the throat. In order to warn the throat, both these Riyaz should be done first and then Riyaz of Palta/Alankar. Riyaz of Hakar is also very important in Kharaj. Vowel letters should also be practiced in Kharaj.

Important Note

To increase the quality of voice, first of all you have to practice getting up in the morning.

Riyaz of holding notes is very important to make the throat. Holding notes should never be hurried. After this, the riyaz of Palta/Alankar Gamak is very important.

To Increase vocal range

To increase the vocal range, firstly the Kharaj Riyaz then the Riyaz of Holding Notes. After this, a lot of Palta/Alankar should be practiced. I have made a video lesson on this topic and on Palta/Alankar.


शुरुआती अभ्यास

गले में बेस लाने के लिए आपको सबसे पहले सा का रियाज़ करना होगा। इसके बाद खरज का रियाज़ करना है। गले में बेस लाने के लिए खरज का रियाज़ बहुत महत्वूर्ण है। गले को गर्म करने के लिए ये दोनों रियाज़ पहले कर लेना चाहिए फिर पलटा/अलंकार का रियाज़ करना चाहिए। खरज में हाकार का रियाज़ भी बहुत जरूरी है। खरज में भौवेल लेटर्स का अभ्यास भी करना चाहिए।

महत्वपूर्ण बातें

आवाज़ की गुणवत्ता बढ़ाने के लिए सबसे पहले आपको सुबह उठने का अभ्यास करना होगा।

गला बनाने के लिए होल्डिंग नोट्स का रियाज़ बहुत जरूरी है। होल्डिंग नोट्स का रियाज़ जल्दीबाजी में कभी नहीं करना चाहिए। इसके बाद फिर पलटा/अलंकार गमक का रियाज़ बहुत जरूरी है।

गले का रेंज बढ़ाने के लिए

गले का रेंज बढ़ाने के लिए सबसे पहले खरज का रियाज़ फिर होल्डिंग नोट्स का रियाज़ करना चाहिए। इसके बाद पलटा/अलंकार का खूब अभ्यास करना चाहिए। पलटा अलंकार का वीडियो लेशन मैंने बनाया हुआ है उसे अच्छे तरीके से फॉलो कीजिए।



Related Posts

Leave a Reply

error: Content is protected !!