The sound breaks while singing loudly ऊंचे स्वर गाते वक्त आवाज फट जाती है

Riyaz Properly

It is important to practice the high vocals properly to sing properly. Be careful if you make a hurry. Riyaz should always be done very comfortably and carefully.

At the beginning of the Riyaz

At the beginning of the Riyaz, the holding notes should be practiced daily. In the Riyaz of the holding notes, the Kharaj has to stay with full breath on every note of the Riyaz. It means to practice holding notes on the lower octave and middle octave on a daily basis. This Riyaz is not to be hurried. After this, the Palta should be practiced and then the Gamak should be done.

Voice burst, sore throat, voice shaking, singing in tone, etc., all these problems are solved by doing the right kind of Riyaz. I have created a lesson for all the learners, see it very well, understand and practice.


सही ढंग से रियाज

ऊंचे स्वर को सही से गाने के लिए सही ढंग से रियाज करना जरूरी है। अगर आप जल्दीबाजी में रियाज करते हैं तो संभल जाइए। रियाज हमेशा बहुत आराम से और सावधानी से करना चाहिए।

रियाज़ के शुरुआत में

रियाज़ के शुरुआत में प्रतिदिन होल्डिंग नोट्स का रियाज़ करना चाहिए। होल्डिंग नोट्स के रियाज़ में खरज का रियाज़ और मध्य सप्तक के हर सुर पर पूरी सांस के साथ ठहरना है। मतलब प्रतिदिन मंद्र सप्तक और मध्य सप्तक पे होल्डिंग नोट्स का रियाज़ करना है। यह रियाज जल्दी बाजी में नहीं करना है। इसके बाद पलटा अलंकार फिर गमक का रियाज करना चाहिए।

आवाज का फटना, गले में खराश रहना, आवाज हिलना, सुर में गाना इत्यादि यह सभी समस्या सही तरह के रियाज करने से ठीक हो जाता है। मैंने सभी सीखने वालों के लिए लेशन बनाया हुआ है, उसे आप बहुत अच्छे से देखिए समझिए और अभ्यास कीजिए।


Watch Video:
✓Basic singing lessons for all beginners

✓Singing Tips खुली आवाज़ में कैसे गायें How to Sing with Open Throat | Open up your Voice

✓Singing tips For Sweet Good voice What to eat Facts Suitable good food


error: Content is protected !!