In which raag Alankar should be practiced अलंकार का रियाज किस राग में करना चाहिए

If you are a beginner

If you are a beginner student then you should try Shuddh swaras. First of all, you should practice at least 2 years of Alankar on Shuddh swaras. After understanding the Swar, learning of raga begins.

When you start learning the raga

When you start learning the raga, then you can practice the Alankar on that Thaat. The raga you are going to practice, Before that you can practice the Alankar on the Thaat of that raga.


अगर आप शुरुआती छात्र हैं

अगर आप शुरुआती छात्र हैं तो आपको शुद्ध स्वरों पर ही रियाज करना चाहिए। पहले आप को कम से कम 2 साल पलटा अलंकार का रियाज करना चाहिए शुद्ध स्वरों पर। सुर की समझ आने के बाद राग सीखना शुरू होता है।

जब राग सीखना शुरू हो जाए

जब राग सीखना शुरू हो जाए तब उस राग के थाट पर अलंकार का रियाज कर सकते हैं। जिस राग का अभ्यास आप करने वाले हैं उसके पहले उस राग के थाट पर अलंकार का अभ्यास कर सकते हैं।


error: Content is protected !!