How to do Singing practice (riyaz) without Harmonium हारमोनियम के बिना रियाज़ कैसे करें

Without harmonium Riyaz

Without harmonium Riyaz is right but it is too good to do riyaz on tanpura but It is difficult for them to learn what they have started, without knowing the tone of the harmonium, for those who have started learning, it is very important that you can understand right sur(tone) of harmonium.

If you can do this

If you can do this, you will be able to go through the electric tanpura while sitting on the harmonium, and then the sound of Tanpura will go to the ears. The meditation of Riyaz will also be good and the sound and tone of Tanpura will go slowly in the brain. After learning a few months about the technique of Tanpura from your guru u will be able to recognizing it sur(tone), then after you will pray without harmonium.


बिना हारमोनियम के

बिना हारमोनियम के ही सही तरह से रियाज़ होता है और ये सही भी है। पर जो शुरुआत किये हैं सीखना उनके लिए मुश्किल है बिना हारमोनियम के सुर को पहचानना, तो जो सीखना शुरू किए हैं उनके लिए हारमोनियम बहुत जरूरी है ताकी सही तरह से रियाज़ हो सके और सुर को समझ सके।

ऐसा कर सकते हैं

ऐसा कर सकते हैं की हारमोनियम पर रियाज़ करते वक़्त साथ में इलेक्ट्रिक तानपुरा चालू करके बैठिए तो तनपुरा का आवाज़ कानों में जाते रहेगा इससे रियाज़ पे ध्यान भी अच्छा बनेगा और तानपुरा का आवाज़ और सुर भी दिमाग़ में धीरे धीरे जाने लगेगा। कुछ महीने सीखने के बाद अपने गुरु से तानपुरा के बारे में जानने के बाद और उसके सुरो को पहचानने के बाद ही आप बिना हारमोनियम के रियाज़ कर पायेंगे।


Learn Singing without Harmonium जिनके पास हार्मोनीयम नही है वो भी संगीत सिख सकते हैं

ज़्यादातर लोग संगीत में असफल क्यूँ हो जाते हैं ??


error: Content is protected !!