How to bring Gamak/Aakar in throat गले में गमक/आकार कैसे लाएं

Riyaz of Palta or Alankar is very important to bring Gamak to the throat. Until you do not Riyaz for a few months of Palta or Alankar, there will not be a good throat.

Riyaz Properly

Do not have to rush to practice the Palta or Alankars, otherwise the throat will not be ready properly. If throat will not be ready then the gamak will not come in the throat and you will not be able to do the singing properly. Therefore, the more you practice the Palta or Alankars, the easier it will be to bring Gamak in the throat.


गले में गमक लाने के लिए पल्टा या अलंकार का रियाज़ बहुत जरूरी है। जब तक कुछ महीने पल्टा या अलंकार का रियाज़ नहीं कीजिएगा तब तक गले में गमक नहीं आएगा।

रियाज़ सही से करना है

पल्टा या अलंकार का रियाज़ करने में जल्दीबाजी नहीं करनी है नहीं तो गला सही से तैयार नहीं होगा। अगर तैयार नहीं हुआ तो गमक भी गले में नहीं आएगा और आप सही से गायकी नहीं कर पाएंगे। इसलिए जितना ज्यादा आप पल्टा या अलंकार का रियाज़ करेंगे उतनी ही आसानी होगी गले में गमक लाने में।


When we should Riyaz of Gamak or Akaar, आकार का रियाज़ कब शुरू करना चाहिए ??

How to sing Taan Sargam Vistaar Gamak in any Raag किसी भी राग में तान सरगम कैसे गायें


error: Content is protected !!