Can’t sing with open throat (Solution) गला खोलकर नहीं गा पाते हैं क्यूं

If you just listen to the song and copy and sing then it is very difficult to open the throat. To sing in an open voice or to open your throat, there are some things that need attention.

To open your voice

To open your voice, it is very important to have Riyaz properly. Whenever sitting for practice, the first thing to do is to practice Sa in an open voice. After that, do the Riyaz of Kharaj. Then it is very important to practice Palta/Alankar and Gamak daily.

Riyaz always has to be done with open  voice. This will also make your singing in an open voice.


अगर आप सिर्फ गाना सुनकर कॉपी करके गाते हैं तब गला खोलना बहुत मुश्किल है। खुली आवाज में गाने के लिए या अपने गले को खोलने के लिए कुछ बातें हैं जिन पर ध्यान देना बहुत जरूरी है।

अपनी आवाज को खोलने के लिए

अपनी आवाज को खोलने के लिए सही तरह से रियाज होना बहुत जरूरी है। जब भी रियाज़ करने बैठे तो सबसे पहले सा का रियाज़ करना है खुली आवाज़ में। उसके बाद फिर खरज का रियाज़ जरूर कीजिए। फिर पल्टा अलंकार और गमक़ का रियाज़ रोज करना बहुत जरूरी है।

रियाज़ हमेशा मुंह खोलकर और खुली आवाज़ में ही करना है। इससे आपकी आपकी गायकी भी खुली आवाज़ में होगी।


Related Posts
error: Content is protected !!