Why Harmonium is essential for learning to sing गाना सीखने के लिए हारमोनियम क्यूं जरूरी है

Harmonium is very important

Harmonium is very important for those who want to start learning music.
The earlier time was different, people started learning at Tanpura. In the earlier times, there were front gurus, they had to listen to him in the house of Guru and at night, he had to sit down and sing. But in the present time it is not possible to go to Guru for one day in a week and a class from half an hour to 1 hour. Those who have learned that class have to come home and Riyaz. It is difficult to understand Tanpura in the beginning, so it is difficult to try and Riyaz at home. Therefore, harmonium is very important in the starting times.

Riyaz

Harmonium will tell you the identity of Sur. The master who gives your practice, comes home and becomes very easy to do Riyaz on the harmonium. It is very important to understand the Sur in the early days, it is very important to go through the ears properly. When the harmonium rings, then the Sur will go into your ears and then it will flow properly. Therefore, harmonium is very important at the beginning of time. After learning a few months or years, when the sense of sur is understood, then it is easy to understand Tanpura and sing on Tanpura.


हारमोनियम बहुत जरूरी है

जो संगीत सीखना शुरू करना चाहते हैं उनके लिए हारमोनियम बहुत जरूरी है। पहले का जमाना अलग था, लोग तानपुरा पर सीखना शुरू करते थे। पहले के समय में सामने गुरु होते थे, गुरु के घर बैठकर दिन रात उनको सुनना पड़ता था और साथ बैठकर गाना पड़ता था। पर अभी के समय में ऐसा संभव नहीं है सप्ताह में 1 दिन गुरु के यहां जाना पड़ता है और आधे घंटे से 1 घंटे तक का क्लास होता है। उस क्लास में जो सीखे हैं उसे घर आकर रियाज करना पड़ता है। शुरुआत में तानपुरा को समझना मुश्किल है इसलिए घर आकर प्रयास करना कठिन हो जाता है। इसलिए शुरू के समय में हारमोनियम बहुत जरूरी है।

रियाज़

हारमोनियम आपको सुर की पहचान बताएगा। गुरु जो आपका अभ्यास देंगे उसने घर आकर हारमोनियम पर रे आज करना सरल हो जाता है। शुरुआत के दिनों में सुर को समझना बहुत जरूरी है, प्रत्येक स्वर सही तरह से कानों में जाना बहुत जरूरी है। हारमोनियम जब बजेगा तो वह स्वर आपके कानों में जाएगा और फिर सही तरीके से रियाज होगा। इसलिए शुरुआत के समय में हारमोनियम बहुत जरूरी है। फिर कुछ महीने या साल सीखने के बाद जब सुर की समझ हो जाती है, तब तानपुरा को समझना और तानपुरा पर गाना आसान होने लगता है।


Watch Video:

✓Why Harmonium is essential for learning to sing गाना सीखने के लिए हारमोनियम क्यूं जरूरी है ??

Learn Singing without Harmonium जिनके पास हार्मोनीयम नही है वो भी संगीत सिख सकते हैं


error: Content is protected !!