What is the difference between Thaat and Raga थाट और राग में क्या अंतर है

Thaat and Raag

Some will have to pay attention to the following points.

1. The composition of Thaat is composed from Saptak and the creation of Raag is from Thaat.

2. Thaat does not have any caste, it is complete. Meaning, there are seven swaras in all bases. But Raga has its own caste. Raga may or may not be complete.

3. Thaat has not been played or played. But the raga is sung, the raag has its pigmentation.

4. Thaat do not have to be a Aroh Avaroh. But there is a different significance of Aroh and Avaroh in the raga. Thaats are similar to Aroh and Avaroh, but it is not necessary to have such a raga.

5. Thaat is not necessarily a Vadi-Samvadi, Singing-time, Pakar, Swar of Nyaas, but it is very necessary in Raga. Because Thaat is not played but the Raag is sung.

6. It is necessary to be in the order of seven Swaras in Thaat but it is not necessary in Raga.

7. The name of Thaat is named after the most famous Raga under him but the name of the Ragas has been done independently.


थाट और राग

कुछ निम्नलिखित बातों पर ध्यान देना होगा।

१.सप्तक से थाट की रचना हुई है और थाट से राग की रचना मनी जाती है।

२. थाट की कोई जाति नहीं होती है, यह संपूर्ण होता है। मतलब सभी थाटों में सात स्वर होते हैं। पर राग की अपनी जाति होती है। राग संपूर्ण हो भी सकता है और नहीं भी।

३. थाट गया या बजाया नहीं जाता है। पर राग को गाया जाता है, राग की अपनी रंजकता होती है।

४. थाट में आरोह अवरोह का होना जरूरी नहीं है। पर राग में आरोह और अवरोह का अलग अलग महत्व है। थाट में आरोह और अवरोह समान होते हैं पर राग में ऐसा होना आवश्यक नहीं है।

५. थाट में वादी-संवादी, गायन-समय, पकड़, न्यास के स्वर इत्यादि सब जरूरी नहीं है, लेकिन राग में यह बहुत आवश्यक है। क्योंकि थाट को गाया बजाया नहीं जाता पर राग को गाया जाता है।

६. थाट में सातों स्वर का क्रम में होना जरूरी है पर राग में यह आवश्यक नहीं है थाट में सा के बाद रे, रे के बाद , इस तरह से होता है पर राग का अपना चलन है, अपना पकड़ है, अपनी सुंदरता है।

७. थाट के नाम उनके अंतर्गत आए सबसे प्रसिद्ध राग के आधार पर रखा गया है पर रागों के नाम स्वतंत्र रूप से हुआ है।


Related Posts

1 thought on “What is the difference between Thaat and Raga थाट और राग में क्या अंतर है

Comments are closed.

error: Content is protected !!