Chhodo Kal Ki Baatein छोड़ो कल की बातें Notation | Mukesh | Written in Hindi/English

Title: Chhodo Kal Ki Baatein
Movie: Hum Hindustani (1960)
Music: Usha Khanna
Lyrics: Prem Dhawan
Singer: Mukesh

Title: छोड़ो कल की बातें
Movie: हम हिन्दुस्तानी (1960)
Music: उषा खन्ना
Lyrics: प्रेम धवन
Singer: मुकेश


Lyrics in English/Hindi

Chhodo kal ki baatein, kal ki baat puraani
Naye daur me likhenge, Mil kar nai kahani
Hum Hindustani, Hum Hindustani

Aaj puraani janzeeron ko tod chuke hain
Kya dekhe us manjil ko jo chhod chuke hain
Chand ke dar par ja pahucha hai aaj jamana
Naye jagat se hum bhi nata jod chuke hain
Naya khoon hai, nai umange, ab hai nai jawaani

Humko kitne tajmahal hain aur banane
Kitne hain ajanta humko aur sajane
Abhi palatana hai rukh kitne dariyayon ka
Kitne parwat raahon se hain aaj hatane
Naya khoon hai, nai umange, aur hai nai jawani
Hum Hindustani, Hum Hindustani

Aao mehnat ko apna imaan banaye
Apne haatho se apna Bhagwaan banayein
Raam ki iss dharati ko, gautam ki bhoomi ko
Sapano se bhi pyara Hindustaan banayein
Naya khoon hai, nai umange, aur hai nai jawani
Hum Hindustani, Hum Hindustani

Daag gulaami ka dhoya hai jaan luta ke
Deep jalaye hain ye kitne deep bujha ke
Li hai aazadi to fir iss aazadi ko
Rakhna hoga har dushman se aaj bacha ke
Naya khoon hai, nai umange, aur hai nai jawani
Hum Hindustani, Hum Hindustani

Har zarra hai moti aankh uthakar dekho
Mitti me sona hai hath badhakar dekho
Sone ki ye ganga hai, chandi ki jamuna
Chaho to patthar ye dhaan ugaakar dekho
Naya khoon hai, nai umange, aur hai nai jawani
Hum Hindustani, Hum Hindustani

छोड़ो कल की बातें, कल की बात पुरानी
नए दौर में लिखेंगे, मिल कर नई कहानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी

आज पुरानी ज़ंजीरों को तोड़ चुके हैं
क्या देखें उस मंज़िल को जो छोड़ चुके हैं
चांद के दर पर जा पहुँचा है आज ज़माना
नए जगत से हम भी नाता जोड़ चुके हैं
नया खून है, नई उमंगें, अब है नई जवानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी

हमको कितने ताजमहल हैं और बनाने
कितने हैं अजंता हमको और सजाने
अभी पलटना है रुख कितने दरियाओं का
कितने पवर्त राहों से हैं आज हटाने
नया खून है, नई उमंगें, अब है नई जवानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी

आओ मेहनत को अपना ईमान बनाएँ
अपने हाथों से अपना भगवान बनाएँ
राम की इस धरती को, गौतम की भूमि को
सपनों से भी प्यारा हिंदुस्तान बनाएँ
नया खून है, नई उमंगें, अब है नई जवानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी

दाग गुलामी का धोया है जान लुटा के
दीप जलाए हैं ये कितने दीप बुझा के
ली है आज़ादी तो फिर इस आज़ादी को
रखना होगा हर दुश्मन से आज बचा के
नया खून है, नई उमंगें, अब है नई जवानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी

हर ज़र्रा है मोती आँख उठाकर देखो
मिट्टी में सोना है हाथ बढ़ाकर देखो
सोने की ये गंगा है, चांदी की जमुना
चाहो तो पत्थर पे धान उगाकर देखो
नया खून है, नई उमंगें, अब है नई जवानी
हम हिन्दुस्तानी, हम हिन्दुस्तानी


Chhodo Kal Ki Baatein: By Mukesh – Hum Hindustani (1961)


Written Notation in Hindi/English


Related Posts

Leave a Reply

error: Content is protected !!