Apni Azadi Ko Hum अपनी आज़ादी को हम Notation | Md Rafi |Written in Hindi/English

Movie: Leader (1964)
Music: Naushad
Lyrics: Shakeel Badayuni
Singer: Mohammad Rafi

Movie: लीडर (1964)
Music: नौशाद
Lyrics: शकील बदायूंनी
Singer: मो.रफी


Lyrics in English/Hindi

Apni azadi ko hum hargiz mita sakte nahin
Sar kata sakte hain lekin, sar jhuka sakte nahin
Apni azadi ko hum hargiz mita sakte nahin

Hamne sadiyon me ye azadi ki nemat paai hai
Saikaron kurbaniyan dekar ye daulat pai hai
Muskurakar khaai hai seeno pe apne gooliyan
Kitne veerano se gujare hain to jannat paai hai
Khaak me hum apni izzat ko mila sakte nahi

Kya chalegi zulm ki ahle wafa ke saamne
Aa nahi sakta koi shola hawa ke saamne
Laakh fauzein le ke aaye amr ka dushman koi
Ruk nahin sakta hamari ekta ke saamne
Hum wo patthar hain jise dushman hila sakte nahin

Waqt ki awaz ke hum saath chalte jayenge
Har kadam par jindagi ka rukh badalte jayenge
Gar watan me bhi milega koi gaddar-e-watan
Apni taakat se hum uska sar kuchalte jayenge
Ek dhokha kha chuke hain, aur kha sakte nahin

Hum watan ke naujawan hain, hamse jo takrayega
Wo hamari thokaron se khaak mein mil jayega
Waqt ke toofaan me bah jayenge jilmo-sitam
Aasmaan par ye tiranga umr bhar lahrayega
jo sabak bapu ne sikhlaya, bhula sakte nahin

अपनी आज़ादी को हम हरगिज़ मिटा सकते नहीं
सर कटा सकते हैं लेकिन, सर झुका सकते नहीं
अपनी आज़ादी को हम हरगिज़ मिटा सकते नहीं

हमने सदियों में ये आज़ादी की नेमत पाई है
सैकड़ों कुर्बानियाँ देकर ये दौलत पाई है
मुस्कुराकर खाई है सीनों पे अपने गोलियाँ
कितने वीरानों से गुज़रे हैं तो जन्नत पाई है
ख़ाक में हम अपनी इज़्ज़त को मिला सकते नहीं

क्या चलेगी ज़ुल्म की अहले वफ़ा के सामने
आ नहीं सकता कोई शोला हवा के सामने
लाख फ़ौजें ले के आए अम्न का दुश्मन कोई
रुक नहीं सकता हमारी एकता के सामने
हम वो पत्थर हैं जिसे दुश्मन हिला सकते नहीं

वक़्त की आवाज़ के हम साथ चलते जाएँगे
हर क़दम पर ज़िन्दगी का रुख बदलते जाएँगे
गर वतन में भी मिलेगा कोई गद्दार-ए-वतन
अपनी ताकत से हम उसका सर कुचलते जाएँगे
एक धोखा खा चुके हैं, और खा सकते नहीं

हम वतन के नौजवाँ हैं, हमसे जो टकराएगा
वो हमारी ठोकरों से ख़ाक में मिल जाएगा
वक़्त के तूफ़ान में बह जाएँगे ज़ुल्मों-सितम
आसमाँ पर ये तिरंगा उम्र भर लहराएगा
जो सबक बापू ने सिखलाया, भुला सकते नहीं


Apni Aazaadi Ko Hum अपनी आज़ादी को हम


Written Notation in Hindi/English


Related Posts

Leave a Reply

error: Content is protected !!