Why are different Singing scale of the girl from the boys लड़का लड़की के स्केल अलग क्यूँ होते हैं?

First of all, you have to understand how to recognize your singing scale. If in any scale you get your voice by the Ma of the Lower Octave to the Ma of Higher Octave, then it is your scale.

God created the voice of the boy and the girl differently. The boy’s voice is thick and the voice of the girl is thin. Therefore, both of the scales are different. C# D D# E etc This is the scale of all boys. Bflat G# A etc is the scale of all the girls. Girls’ scales are higher than the scale of boys.


सबसे पहले यह समझना होगा कि अपना सिंगिंग स्केल कैसे पहचानेंगे। अगर किसी भी स्केल में मंद्र सप्तक के मं से लेकर तार सप्तक के मं तक आपकी आवाज जाती है तो वह आपका स्केल होता है। सबसे ऊपर का जो स्वर है वह तार सप्तक का मं होना चाहिए तो वह आपका स्केल होता है।

भगवान ने लड़का और लड़की की आवाज अलग अलग बनाई है। लड़के की आवाज मोटी होती है तो लड़की की आवाज़ पतली होती है। इसलिए दोनों का स्केल भी अलग अलग होता है। C# D D# E ये सभी लड़कों का स्केल होता है। Bflat G# यह सभी लड़कियों का स्केल होता है। लड़कियों का सिंग इन ए स्केल लड़कों से ऊंचा होता है।


Watch Video:

Why are different Singing scale of the girl from the boys लड़का लड़की के स्केल अलग क्यूँ होते हैं?


👉Join Online Singing Class
Email: rohitkumar.ece101@gmail.com
Follow this link to message me on WhatsApp: https://wa.me/918678878793


✍️My Songs My Creations
✓Lyrics + Composition + Vocal : By Rohit Kumar Singh

Must watch

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: