How to read and write Swaras of all three Saptaks तीनों सप्तक के स्वरों को कैसे लिखें और पढ़ें

We all know that there are three types of octave. Mandra Saptak, Madhya Saptak and Taar Saptak.

Under the swaras of the Lower-octave Mandra Saptak), let’s address it by putting (.) below. The High octave (Taar Saptak) swaras is addressed by putting (.) over the swaras of the octave. By placing the Komal swaras under (_) and Tivra Swar is addressed by putting ( ‘ ) over the swar.

It is easy to write these swaras on the copy. It is a bit difficult to type Swaras on the keyboard. The Shuddh swar of the middle octave can be easily written anywhere, but it is difficult to write the notes of the Mandra and the Taar Saptak in both English and Hindi. It is also hard to write Komal and Tivra swaras. I have used a little easy way to write these vowels (swaras).

1.Madhya Saptak: S R G M P D N

Komal swar: R G D N

Tivra Swar: ‘M or M’

2.Mandra Saptak: .N .D .P .M .G .R .S

Komal swar: .R .G .D .N

Tivra Swar: .M’

3.Taar Saptak: S° R° G° M° P° D° N°

Komal swar:

Tivra Swar: ‘


हम सभी जानते हैं कि सप्तक तीन प्रकार के होते हैं। मन्द्र सप्तक, मध्य सप्तक और तार सप्तक।

मन्द्र सप्तक के स्वरों के नीचे (.) लगाकर संबोधित करते हैं। तार सप्तक के स्वरों के ऊपर (.) लगाकर संबोधित किया जाता है। कोमल स्वरों के नीचे ( _ ) लगाकर और तीव्र स्वर के ऊपर ( ‘ ) लगाकर संबोधित करते हैं।

कॉपी पर इन स्वरों को लिखना आसान होता है। कीबोर्ड पर स्वरों को लिखना थोड़ा मुश्किल है। मध्य सप्तक के शुद्ध स्वर तो आसानी से कहीं भी लिखा जा सकता है पर मन्द्र और तार सप्तक के स्वरों को हिंदी और अंग्रेजी दोनों में लिखना मुश्किल है। कोमल और तीव्र स्वरों को लिखना भी कठिन है। मैंने थोड़ा आसान तरीका का इस्तेमाल किया है इन स्वरों को लिखने के लिए।

अंग्रेजी में स्वरों को लिखने के लिए बड़ा अक्षर (कैपिटल लेटर)) कापयोग किया गया है। मध्य सप्तक के लिए सारे कैपिटल लेटर हैं। तार सप्तक के लिए कैपिटल लेटर के बाद (.) लगाया गया है। मंद्र सप्तक के लिए कैपिटल लीटर के पहले (.) लगाया गया है। कोमल स्वरों के नीचे ( _ ) लगाया गया है। तीव्र स्वर के ऊपर बाये या दाए में ( ‘ ) लगाया गया है।

१.मध्य सप्तक: सा रे ग म प ध नि

कोमल स्वर: रे नि

तीव्र स्वर: म’ या ‘म

२. मन्द्र सप्तक: .नि .ध .प .म .ग .रे .सा

कोमल स्वर: .रे . . .नि

तीव्र स्वर: .म’

३. तार सप्तक: सां रें गं मं पं धं निं

(या) सा° रे° ग° म° प° ध° नि°

कोमल स्वर: रें गं धं निं

(या) रे° ग° ध° नि°

तीव्र स्वर: ‘मं या ‘म°


👉Join Online Singing Class
Email: rohitkumar.ece101@gmail.com
Follow this link to message me on WhatsApp: https://wa.me/918678878793


✍️My Songs My Creations
✓Lyrics + Composition + Vocal : By Rohit Kumar Singh

Must watch

Advertisements

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s